हमारी प्राथमिकता विकास है, वोट नहीं : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

0
2
views
ADD SPACE

हमारी प्राथमिकता विकास है, वोट नहीं : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

space for add
ADD SPACE

शहंशाहपुर, 23 सितम्बर:भाषाः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र में विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों के दौरान कहा कि भारतीय जनता पार्टी की राजनीति वोट बैंक के लिये नहीं है। हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता देश का संपूर्ण विकास है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘कुछ नेता अपना वोट बैंक मजबूत करने के लिये काम करते है, लेकिन हम अलग संस्कारों से पले-बढ़े हैं। हमारे लिये राष्ट्र ही सर्वोपरि है और यही हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है ।’ प्रधानमंत्री ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी के दूसरे और अंतिम दिन यहां ‘आयोजित पशुधन आरोग्य मेले’ का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘दूसरे राजनीतिक दल उसी काम को करना पसंद करते हैं, जिनमें वोट की सम्भावना हो, लेकिन हम अलग संस्कारों से पले बढ़े हैं। हमारा चरित्र अलग है। हमारे लिये दल से बड़ा देश है। इस कारण हमारी प्राथमिकताएं वोट के हिसाब से नहीं होती है।’’ अट्ठारह सौ एकड़ जमीन पर आयोजित मेले का उदाहरण देते हुये उन्होंने कहा, ‘पशुधन आरोग्य मेले में उन पशुओं की सेवा की जा रही है जिन्हें कभी वोट देने नहीं जाना है। यह पशु किसी के मतदाता नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 में जब देश स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मना रहा होगा तब गांव हो या शहर वहां रहने वाले हर गरीब के पास मकान होगा।

उन्होंने कुछ लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रमाणपत्र भी बांटे। उन्होंने कहा कि देश में जब करोड़ों मकान बनेंगे तब इसके लिये ईट, सीमेंट, लोहा और लकड़ी की जरूरत होगी, इससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा तथा रोजगार के अवसर मिलेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘मैं मुख्यमंत्री को इस बात के लिये बधाई देना चाहता हूं कि उन्होंने पशुधन आरोग्य मेला का आयोजन किया। यह मेला पूरे प्रदेश के किसानों के लिये लाभप्रद होगा।’ उन्होंने कहा, ‘‘कालाधन, भ्रष्टाचार, बेईमानी के खिलाफ मैंने बहुत बड़ी लड़ाई छेड़ी। सामान्य ईमानदार आदमी को इसलिये मुश्किल होती है, क्योंकि बेईमान उन्हें लूटते हैं। ईमानदारी का यह अभियान आज एक उत्सव के रूप में पनप रहा है। जिस तरह छोटे व्यापारी भी जीएसटी से जुड़ रहे हैं। चीजों को आधार के साथ जोड़ा जा रहा हैं। जनता की पाई-पाई का खर्च जनता की भलाई पर होगा। हम बहुत तेजी से आगे बढ़ रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि नवरात्र के पावन पर्व में मुझे पड़ोस के गांव में शौचालय की र्इंट रखने का सौभाग्य मिला। स्वच्छता देश में गरीबों को बीमारी से मुक्त कराएगी, इसलिये यह गरीबों की भलाई करने का मेरा अभियान है।’’ उन्होंने कहा कि उस गांव में शौचालयों पर ‘इज्जतघर’ लिखा था। यह शब्द बहुत अच्छा लगा, क्योंकि जहां ‘इज्जतघर’ है वहां माताओं बहनों और गांव की इज्जत है। आने वाले समय में जिसे भी इज्जत की चिंता है वह ‘इज्जतघर’ बनाएगा। स्वच्छता अभियान और देश के हर व्यक्ति को घर देने के लिये अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हुए मोदी ने कहा कि उन्होंने वर्ष 2022 तक देश के हर शहरी और ग्रामीण गरीब को घर देने का बहुत बड़ा संकल्प लिया है। उन्हें मालूम है कि उन्होंने जो बीड़ा उठाया है वह बहुत मुश्किल है। उन्होंने कहा ‘‘लेकिन अगर मुश्किल काम मोदी नहीं करेगा, तो कौन करेगा।’’

ADD SPACE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here